domain name kya hai

नमस्कार दोस्तों, आज के इस article में हम बात करेंगे कि आखिर domain name kya hai और वह कितने type का होता है. जब भी आप अपना blog या कोई e-commerce वेबसाइट बनाने के बारे में सोचते हैं तो आपको Domain यह शब्द जरूर सुनने में आया होगा.

क्योंकि बिना domain की वेबसाइट का मतलब ऐसा ही है जैसे बिना किसी नाम का कोई इंसान. तो अगर आपको नहीं पता है कि domain name kya hai और यह कैसे काम करता है, इसके कितने type होते हैं तो इस article में मैं आपको Domain के बारे में पूरी जानकारी दूंगा.

Domain Name Kya Hai?

domain name वेबसाइट का एक नाम होता है जिससे आपकी वेबसाइट को internet पर पहचाना जाता है. domain name आपकी वेबसाइट के नाम के साथ ही आपकी वेबसाइट का address होता है. जहा से आपके वेबसाइट को internet पर access किया जाता है.

For example:  www.xyz.com

Domain Name कैसे काम करता है?

आपको बता दूं कि Computer को characters समझ में नहीं आते. computer को सिर्फ और सिर्फ numbers समझ में आते है. हर एक वेबसाइट का एक unique number होता है जिसे हम IP address कहते हैं. जिनसे Computers की पहचान होती है और वह एक दूसरे के साथ communicate करते हैं.

पर इंसान ऐसा नहीं करते इंसान एक दूसरे को उनके नाम से पहचानते हैं और communicate करते हैं. इसी communication gap को खत्म करने के लिए domain name system (DNS) का इस्तेमाल किया जाता है.

DNS नाम को number में convert करता है. यह domain name को IP address में convert करता है. जिसे Computer समझ सके और Communicate कर सके.

for example अगर आप अपने computer के browser में कोई भी domain type करते हैं. जैसे google.com जोकि technically देखा जाये तो जरूरी नहीं है. आप Google को उसके IP address को type करके भी access कर सकते हैं.

पर हर किसी वेबसाइट के IP address को याद रखा नहीं जा सकता. इसीलिए हम लोग Domain name का इस्तेमाल करते हैं जिसे DNS IP address में covert कर देता है.

जब हम Browser पर google.com Search करते है तब DNS google.com के लिए IP address को ढूंढता है. और जैसे ही उसे IP address मिल जाता है. DNS उस Domain name को Convert करके IP address में बदल देता है.

जब ऐसा होता है तब आपका Computer Google के web server से communicate कर पाता है और आप google के web page को access कर पते है.

Domain Name के Types

1. Top Level Domains (TLD)
      I] Generic Top Level Domains (gTLD)
      II] Country Code Top Level Domain (ccTLD)
2. Sub-domain

1 Top Level Domain (TLD)

List Of Top Level Domains

  • .com – commercial business
  • .org – Organization (typically non-profit)
  • .gov – Government Agencies
  • .edu – Educational institution
  • .net – Network organization
  • .mil – miltery

Top Level Domain (TLD) को 2 भाग में बाटा गया है.

I] Generic Top Level Domain (gTLD)

Generic top level Domain को दुनिया के किसी भी कोने से कोई भी इंसान Register कर सकता है.

Generic top level domain  में शामिल है .com, .net, .biz, .org और .info etc.

II] Country Code Top Level Domain (ccTLD)

ccTld यह country code top level domain extension है जो सिर्फ 2 letter का होता है. ccTLD यह हर एक Country के लिए अलग-अलग होता है.

ccTLD के Examples
  • .in
  • .uk
  • .it
  • .cc
  • .nz etc.

2 Sub-domain

sub-domain एक तरह से आपके domain का part होता है. इसे आपको अलग से खरीदने की जरूरत नहीं होती है. Sub-domain को आप अपने C-Panel में जाकर बना सकते हैं. Sub-domain का इस्तेमाल आप multi-language वेबसाइट बनाने के लिए कर सकते हैं.

समझ कर चलिए कि आपकी एक वेबसाइट है जिसका domain name xyz.com है. और आप इस वेबसाइट को इंग्लिश और tamil में भी बनाना चाहते हैं. तो क्या आप को नया Domain खरीदना होगा? जी नहीं आप अपने existing domain से ही sub-domain बनाकर इंग्लिश और tamil language की वेबसाइट बना सकते हैं.

तो xyz.com domain के sub-domain कुछ इस तरह होंगे. जो की है  eng.xyz.com और tam.xyz.com.


उम्मीद करता हूं कि domain name kya hai, कैसे काम करता है और इसके कितने प्रकार होते हैं यह मैं आपको ठीक से समझा पाया हु. अगर आपका कोई भी सवाल हो तो औ मुझे comment के जरिये पूछ सकते है.


नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम अंकुश एकापुरे है. मै पेशे से एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हु. मै महाराष्ट्र का रहने वाला हु. मैंने Snoopy Nerd इस लिए शुरू की ताकि मै भारत के लोगो को ब्लॉग्गिंग के बारे मे जानकारी दे सकू.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here