RAM kya hai

तो दोस्तो आज के इस article में हम जानेंगे कि RAM kya hai? (what is RAM in hindi), इसके साथ ही हम जानेंगे RAM कैसे काम करता है, RAM किस लिए इस्तेमाल की जाती है, RAM के types कौन से होते हैं और जानेंगे की RAM की history क्या है.

तो दोस्तो आपने RAM के बारे में सुना होगा और आप इस्तेमाल भी कर रहे होंगे. पर शायद आप में से कुछ को RAM के बारे में जानकारी नहीं होगी. या फिर आप कोई कंप्यूटर खरीदना चाहते होंगे और आपको समझ नहीं आ रहा होगा कि आपको कितने RAM की जरूरत है.

तो आज मैं आपकी सारी confusion दूर कर दूंगा. तो चलिए सबसे पहले शुरुआत करते हैं RAM kya hai? (what is RAM in hindi) इस सवाल के जवाब से.

RAM kya hai? (What Is RAM In Hindi?)

RAM Ka Full Form :- Random Access Memory

RAM एक hardware component है. basically RAM कंप्यूटर की एक main memory है. जिसमें operating System, application programs और data जो इस्तेमाल किया जा रहा है वह temporary store होता है.

जिससे वह data processor को जल्द से जल्द operation perform करने के लिए भेजा जा सके.

RAM दूसरे storage devices जैसे की hard disk, pendrive etc. इन से कई गुना fast होती है. जिस वजह से RAM read and write operation काफी तेजी से कर सकते हैं.

RAM एक volatile memory है. जिस वजह से RAM में जो भी data store होता है वह तब तक store रहता है जब तक वह कंप्यूटर या फिर device बंद नहीं हो जाता है.

तो अब हमने जाना कि RAM ka full form क्या है और RAM kya hai? (What is RAM in hindi?) और अब जानते हैं कि RAM  का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है.

RAM का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

जैसा कि हमने जाना कि RAM एक temporary storage device है. RAM किसी भी application को run करने से पहले उसका data temporary store करके रखता है.

तो इस वजह से RAM का इस्तेमाल कहीं जगहों पर किया जाता है. जैसे आज के मोबाइल, tablets, computer, laptop और हर एक चीज जहां पर data process किया जाता है.

इसका सबसे बेहतरीन example है gaming console. अगर आप games खेलने के शौकीन हैं तो आपको पता होगा कि gaming console क्या है.

RAM का इस्तेमाल data को permanent storage याने hard disk से लेकर processor तक पहुंचाने का होता है. जैसे अगर आप कोई कंप्यूटर या मोबाइल game खेलते हैं तो यह game लगभग 1GB से लेकर 10 GB तक के होता है.

तो यह possible नहीं है कि game शुरू होने से पहले 1GB data processor को मिल जाए ताकि game run हो सके. इसलिए RAM का इस्तेमाल किया जाता है.

RAM game के छोटे parts को जरूरत के हिसाब से load करता है और उसे processor को भेजता है.

अब यह तो बात हो गई RAM kya hai? (What is RAM in Hindi), RAM का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है. अब जानते हैं कि RAM कैसे काम करती हैं.

RAM कैसे काम करती है? (How Does RAM Work?)

आज मैं आपको RAM कैसे काम करती है यह कुछ different और आसान शब्दों में समझाऊंगा जिससे आपको समझने में आसानी हो.

समझ कर चलिये कि RAM एक बुक का index page की तरह है जहां कई सारे page number है. यह numbers book के size याने की RAM के size पर depend करता है.

अब होता क्या है जब भी आपको book से कुछ ढूंढ़ना होता है तो आप index पेज पर जाकर उसका पेज numbers देख लेते हैं और उस पेज को access करते हैं. यहां पर processor आप हैं.

उसी तरह computer processor को जब किसी application या फिर operation को perform करना होता है. तो वह RAM के Memory address को check करता है.

और उस data को RAM से उठा लेता है जिस address पर हमें data available है. जब भी आप कोई application या फिर file open करते हैं.

तो वह temporary RAM के किसी memory address के location में store हो जाती है. जहा से processor उसे access करता है.

तो दोस्तों अब तक आप को पता चल गया होगा कि RAM kya hai? (What is RAM in Hindi?), किस लिए इस्तेमाल कि जाती है और यह काम कैसे करती है.

अब हम RAM के history पर थोड़ी नजर डालते हैं और उसके बाद हम जानते है कि RAM के types कोनसे है.

History Of RAM In Hindi (RAM का इतिहास)

सबसे पहली RAM आई थी 1947 को जिसमें williams tube का इस्तेमाल किया गया था.

उसके बाद 1947 मैं invent की गई थी जो एक magnetic core memory थी. यह memory कुछ इस तरह इस्तेमाल की जाती थी.

यहां पर छोटे metal के ring और wire होते थे जो हर एक ring से connected होते थे. हर 1 bit data हर एक ring में store हुआ रहता था. जिसे कभी भी access किया जा सकता था.

और आज जो memory हम देखते हैं उसे 1968 में सबसे पहले robert dennard ने बनाई थी.

Characteristics Of RAM In Hindi

  1. RAM एक volatile memory है.
  2. RAM में data तब तक store होता है जब तक इसे power मिलता है.
  3. RAM दूसरे storage devices से तेज होती है.
  4. RAM को आप बार-बार इस्तेमाल कर सकते हैं.
  5. RAM दूसरे memory के मुकाबले ज्यादा महंगी होती है.

तो दोस्तों यहा पर हमने जाना की RAM kya hai? (what is RAM in hindi?), RAM की history क्या है और RAM के characteristic क्या है. और अब जानते हैं की RAM के types कौन से है.

Types Of RAM (RAM के Types In Hindi)

RAM 2 type की होती है जो की है:-

  • Dynamic RAM
  • Static RAM

Dynamic RAM kya hai?

Dynamic RAM को हम DRAM भी कहते हैं. यह RAM ज्यादातर personal कंप्यूटर में इस्तेमाल की जाती है. DRAM capacitor से बनी होती है.

जहा DRAM में charge electrical capacitor में होता है. और जो data DRAM में होता है वह कुछ मिली सेकंड में इलेक्ट्रिकल चार्ज की मदद से constantly refresh होता रहता है.

Dynamic RAM को basically main memory के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

Characteristics Of DRAM

  1. DRAM SRAM के मुकाबले सस्ती होती है.
  2. DRAM को बार बार refresh करने की जरूरत होती है.
  3. DRAM की Size कम होती है.
  4. DRAM की Speed भी कम होती है अगर इसकी तुलना SRAM से की जाए.
  5. DRAM को ज्यादा power की जरूरत नहीं होती है.

Static RAM kya hai?

Static RAM को हम SRAM भी कहते हैं. यहाँ static का मतलब होता है स्थिर.

Static RAM का इस्तेमाल ज्यादातर personal कंप्यूटर में नहीं किया जाता. static RAM का data store रखने के लिए constant power की जरूरत होती है.

और इसे बार बार refresh करते रहने की जरूरत नहीं होती. static RAM को ज्यादा transistors की जरूरत होती है DRAM के comparison में. ताकि एक bit data को बनाए रख सके. जिस कारन Static RAM ज्यादा महंगी होती है.

Characteristic Of SRAM

  1. SRAM DRAM से ज्यादा महंगी होती है.
  2. एस RAM को बार बार refresh करने की जरूरत नहीं होती है.
  3. SRAM की size ज्यादा होती है.
  4. SRAM काफी तेज होती है.
  5. SRAM को ज्यादा power की जरूरत होती है.

तो दोस्तों यह थे RAM के types और उनके characteristics. अब तक आप समझ गए होगे Static और Dynamic RAM kya hai? अब जानते हैं कि आपको कितने RAM की जरूरत होती है.

हमे कितने RAM की जरूरत होती है? 

RAM की size हर एक person के लिए different होती है. क्योंकि हर कोई अलग अलग जरूरत रखता है.basically अगर आप normal user हो तो आपके लिए 2GB RAM sufficient होती है.

आजकल के laptop और कंप्यूटर में 4GB RAM दी जाती है. जो कि normal user जो ज्यादा heavy games नहीं खेलता या फिर  छोटे-मोटे Program का इस्तेमाल करता है उसके लिए काफी होती है.

लेकिन अगर आप कोई developer है जो android या फिर image rendering के software पर काम करते हैं. या फिर आप कोई gamer है जो काफी heavy games खेलते हैं तो ऐसे में आपको minimum 8 GB RAM रखनी चाहिए.

ध्यान रखिये अगर आप SRAM खरीदने की सोच रहे हैं. तो यह DRAM से काफी गुना तेज होती है और महंगी भी. जिस वजह से 2 GB SRAM 8GB DRAM के बराबर होती है.


तो दोस्तों यह थी जानकारी RAM के बारे में, आशा करता हूं आप समझ गए होगे कि RAM kya hai? (What is RAM in Hindi?) इसके types कोण से है और आपको कितनी RAM की जरूरत होती है.


 

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम अंकुश एकापुरे है. मै पेशे से एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हु. मै महाराष्ट्र का रहने वाला हु. मैंने Snoopy Nerd इस लिए शुरू की ताकि मै भारत के लोगो को ब्लॉग्गिंग के बारे मे जानकारी दे सकू.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here