what is web hosting in hindi

आप अपना ब्लॉग शुरू करने जा रहे हैं और अब आपको नहीं पता कि आपको कीन चीजों की जरूरत है. अगर आपको नहीं पता कि ब्लॉक शुरू करने के लिए कीन चीजों की जरूरत होती है तो इसे पढ़े Blog Kya Hai और Blog शुरू करने के लिए किन चीजों की जरुरत है.

तो अब आपको पता है कि ब्लॉक शुरू करने के लिए आपको Web Hosting की जरूरत होती है. पर आप नहीं जानते कि आखिर Web Hosting Kya Hai (What Is Web Hosting In Hindi).

तो मैं आपको web hosting की पूरी जानकारी दूंगा जिससे आपको clear हो जाएगा कि web hosting kya hai (What Is Web Hosting In Hindi), web hosting कैसे काम करती है और web hosting के कितने type होते हैं. उनमें से आप के लिए कौन सी web hosting अच्छी रहेगी.

Web Hosting Kya Hai (What Is Web Hosting In Hindi)

web hosting एक online storage होता है जहां हमारे वेबसाइट की images, videos, posts और बाकी चीजें store रहती है. जैसे हम Google drive में अपने personal files को store करते हैं और फिर उन्हें कहीं से भी access कर पाते हैं उसी तरह web hosting होती है.

web hosting भी एक तरह का cloud storage होता है जहां आपके वेबसाइट की files store होती है. और आपकी वेबसाइट को दुनिया के किसी भी कोने से access किया जा सकता हैं.

web hosting कैसे काम करती है

सबसे पहले तो web hosting एक server होता है जो एक तरह की मशीन होती है. जिसमें हमारा data store होता है. अब होता क्या है web hosting server दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में होता है. जब हम किसी domain register से कोई domain खरीदते हैं.तो हम उसे किसी hosting से जोड़ते हैं.

जब कोई हमारे वेबसाइट को दुनिया के किसी भी कोने से access करता है. तो server को एक request जाती है जो किसी file को access करने के लिए होती है.

request receive करने पर server response करता है और requested files का access provide करता है. यह service web hosting companies 24/7 provide करते हैं.

Web Hosting के प्रकार

1. Dedicated Hosting
    I. Advantages
    II. Disadvantages
2. VPS Hosting
    I. Advantages
    II. Disadvantages
3. Shared Hostin
    I. Advantages
    II. Disadvantages

वैसे web hosting के types बहुत है पर हम सिर्फ उन्हीं web hosting की बात करेंगे जिनके बारे में हमें जानकारी होना जरूरी है.

1 Dedicated Hosting

Dedicated Hosting में web hosting कंपनी आपको पूरा एक Dedicated server देती है. समझ कर चलिए की कंपनी ने एक server बनाया है जिसमें 50 GB RAM, i3 प्रोसेसर और 1000TB HDD है.

और यह server उन्होंने आपको दे दिया है और अब आप इसमें जो चाहे वह कर सकते हैं. लेकिन इसकी cost जो होगी वह बाकी hosting से कहीं ज्यादा होगी.

Dedicated Hosting का फायदा यह है कि आपको किसी के साथ server को शेयर नहीं करना पड़ेगा . मतलब कि इस server पर सिर्फ आपका data store रहेगा। जिससे कि आपके वेबसाइट के performance पर असर नहीं होगा और आपकी वेबसाइट ज्यादा secure भी रहेगी।

Dedicated Hosting उन लोगों के लिए है जो कोई बड़ी organization चलाते हैं. या फिर उनकी वेबसाइट पर traffic इतना ज्यादा है कि उन्हें अच्छा processor और RAM की जरूरत पड़ जाए.

I. Advantages

  • Dedicated Resources
  • Flexible
  • Powerful
  • Secure
  • Range of Options

II. Disadvantages

  • High Cost
  • Requires technical knowledge

2 VPS Hosting

VPS Hosting एक virtual private server है. तो यह dedicated server से अलग कैसे है?

तो होता क्या है की जब कंपनी dedicated server बनाती है. तो वह उसे कही भाग में divide करती हैं. मान के चलिए कि कंपनी के पास एक dedicated server है जो कि ५० GB RAM के साथ है.

अब कंपनी क्या करेगी इस ५० GB के dedicated server को वो 100 भाग में divide करेगी। और हर एक भाग को 2 GB RM assign कर देगी और अलग अलग लोगो को उस dedicated server का एक एक भाग बेच देगी।

अब यह VPS Hosting किन लोगों के लिए सही है?

यह जो VPS Hosting है यह एक तरह से private server होता है जैसे dedicated server होता है. बस फर्क इतना होता है कि dedicated server का इस्तेमाल वह लोग करते हैं जिन्हें ज्यादा resources की जरूरत होती है .

और VPS Hosting उन लोगों के लिए होती है जिनके website पर ज्यादा traffic ना हो मतलब की moderate level का traffic हो.

I. Advantages

  • Privacy & Security
  • Cost effectiveness
  • Dedicated Resources
  • Full Control

II. Disadvantages

  • Limited Resources
  • Requires technical knowledge

3 Shared Hosting

shared hosting यह सबसे common hosting होती है जो इस्तेमाल की जाती है. जब किसी dedicated server को कहीं part में divide करके VPS Hsoting बनाया जाता है तो VPS Hosting को वह कुछ और भाग में divide करते हैं. जिसे shared hosting कहते है.

लेकिन shared hosting में एक ही processor, ram,और space को कहीं लोगों के साथ बांटा जाता है. इसका मतलब कि आपकी वेबसाइट जिस server पर host है उसी server पर और कहीं वेबसाइट host होती है.

जो same processor, ram और space का इस्तेमाल कर रही होती है. shared hosting का एक नुकसान होता है जोकि है अगर किसी और वेबसाइट पर traffic बढ जाए तो आपकी वेबसाइट की speed down हो जाती है.

ऐसा ना हो इसलिए कंपनी जिस वेबसाइट पर ज्यादा traffic होता है. उसे hosting कंपनी कुछ समय के लिए service बंद कर देती है.

तो इसका मतलब कि अगर आपकी वेबसाइट पर ज्यादा Traffic आता है और आपने shared hosting ली हुई है तो ज्यादा traffic से बाकी वेबसाइट के performance पर असर ना हो इसलिए आपकी वेबसाइट को कुछ समय के लिए बंद कर दिया जा सकता है.

तो shared hosting का इस्तेमाल किसने करना चाहिए?

shared hosting उन वेबसाइट के लिए अच्छी होती है जिन पर ज्यादा traffic ना हो. shared hosting नए वेबसाइट के लिए अच्छी होती है. क्युकी उनपर ज्यादा traffic नहीं होता.

I. Advantages

  • Low cost
  • Simplicity

II. Disadvantages

  • System Crashes (due to heavy traffic on sites)
  • Performance Problem
  • Security

आशा है कि आपको “What Is Web Hosting In Hindi | Web Hosting Kya Hai कितने प्रकार की होती है” article पसंद आया हो.


नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम अंकुश एकापुरे है. मै पेशे से एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हु. मै महाराष्ट्र का रहने वाला हु. मैंने Snoopy Nerd इस लिए शुरू की ताकि मै भारत के लोगो को ब्लॉग्गिंग के बारे मे जानकारी दे सकू.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here